मां बेटी ने होटलों को लगाया 34 लाख का चूना, पुलिस को ऐसे दी रही थीं चकमा

0Shares

बंटी-बबली के कारनामे आपने खूब सुने होंगे मगर ताजनगरी इस बार दो बबलियों के कारनामे से हैरान है। ये दो बबलियां वे मां बेटी हैं जिन्होंने जालसाजी करके होटलों को 34 लाख रुपये का चूना लगा डाला। आगरा के एक दर्जन होटलों में अपने कारनामों को अंजाम दे चुकीं मां-बेटी शनिवार को सजग होटल संचालकों के शिकंजे में फंस गईं। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।
दिल्ली निवासी महिला और उसकी बेटी पिछले कई माह से आगरा के अलग-अलग होटलों में रह चुकी थीं। वह होटलों से बिना पैसा चुकाए गायब हो जाती थीं। पुलिस के मुताबिक, पूछताछ में मां-बेटी ने उन्हें बताया कि पांच साल पहले महिला ने दिल्ली में अपना मकान बेच दिया था। इसके बाद वह दिल्ली की आईडी पर ही होटलों में कमरा लेकर रुकती थीं। जब वह होटल से फरार हो जाती थीं तो पता फर्जी होने के कारण होटल संचालक माथा पीट लेते थे। पिछले दो-तीन बरस में दोनों मां-बेटी आगरा के होटलों को करीब 34 लाख रुपये का चूना लगा चुकी थीं।
आरोप है कि माँ-बेटी ने एक माह में 34 लाख रुपये से अधिक का चूना अलग-अलग होटलों को लगाया है। शनिवार को ताजगंज पुलिस को होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश चौहान ने सूचना दी कि माँ-बेटी होटल होली-डे इन संजय प्लेस में रुकी हुई हैं। पुलिस टीम होटल होली डे इन पहुंची। पुलिस को देखकर दोनों सकपका गईं। एकबारगी भागने का भी प्रयास किया। मगर पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया। पुलिस उनसे पूछताछ कर जानने का प्रयास कर रही है कि दोनों ने और किन-किन शहरों में किस किस तरह से ठगी की है।
दिल्ली की एक मां-बेटी ये भी
पुलिस का कहना है कि उनके संज्ञान में दिल्ली की एक मां-बेटी का मामला आया था। दिल्ली पुलिस ने बताया था वहां एक मां-बेटी ने ग्रेटर कैलाश-1 में अपना मकान पांच अलग-अलग लोगों को फर्जी दस्तावेजों से बेच कर ठगी की थी। घर को दिखाकर मां बेटी लोगों से ठगी किया करती थीं।  दोनों आलीशान रहन सहन की शौकीन थीं। पुलिस के मुताबिक ठगी के पैसे से दोनों ने जमकर अय्याशी की। एक साल के अंदर दोनों इंग्लैंड, अमेरिका, सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका की यात्रा कर चुकी थीं।

120total visits,2visits today

1988762total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by