U19 टीम के कप्तान प्रियम गर्ग बोले- स्कूल वैन चलाकर पिता ने यहां तक पहुंचाया

0Shares

अंडर-19 विश्व कप के लिए टीम इंडिया की घोषणा सोमवार को हो चुकी है। टीम की कमान प्रियम गर्ग को दी गई है। प्रियम के पिता स्कूल वैन चलाते हैं और उन्होंने यही काम करके अपने बेटे के सपनों को नई उड़ान भी दी। मेरठ जिले से 25 किलोमीटर दूर गांव किला परीक्षित गढ में रहने वाले प्रियम कक्षा 10 के छात्र हैं। प्रियम गर्ग मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानते हैं।

उन्होंने कहा, ‘मैंने छह साल की उम्र से क्रिकेट खेलना शुरू किया था। मेरे पिता नरेश गर्ग स्कूल वैन के ड्राइवर हैं। हम चार भाई-बहन हैं और मेरे पिता के पास इतना पैसा नहीं था कि वो इतने बड़े परिवार के साथ मुझे क्रिकेट खेलने के लिए संसाधन भी उपलब्ध करा सकें।’ उन्होंने कहा, ‘क्रिकेट के प्रति मेरी दीवानगी और समर्पण को देखते हुए उन्होंने अपने दोस्तों से पैसा उधार लेकर मेरे लिए क्रिकेट की किट का इंतजाम किया और मेरी क्रिकेट कोचिंग की व्यवस्था की। धीरे-धीरे मैं क्रिकेट खेलता रहा और अपने पिता की मेहनत से आज मैं अंडर-19 विश्व कप क्रिकेट टीम का कप्तान हूं।’

उन्होंने कहा, ‘मेरी मां का निधन 2011 में हो गया था और उनका सपना था कि मैं क्रिकेट में भारत की तरफ से खेलूं। आज जब मैं अंडर-19 विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रहा हूं तब इसे देखने के लिए मेरी मां नहीं है। इस बात का मुझे बेहद अफसोस है।’ दाएं हाथ से बल्लेबाजी करने वाले प्रियम ने कहा, ‘मैं पढाई के साथ-साथ दिन में 7-8 घंटे क्रिकेट की प्रैक्टिस भी करता रहा। मेरे मेरठ के क्रिकेट कोच संजय रस्तोगी मुझे लगातार मदद करते रहे और उनकी मदद और मेरे पिता की लगन और अपनी मेहनत की वजह से मैं 2018 में उ.प्र. रणजी क्रिकेट टीम में चुना गया।’

‘तेंदुलकर से क्रिकेट टिप्स लेने का है सपना’

प्रियम ने कहा, ‘मेरा सपना है कि तेंदुलकर सर से मिलूं और उनसे क्रिकेट के टिप्स लूं। एक दिन टीम इंडिया की नीली जर्सी पहनूं।’ वहीं उनके कोच रस्तोगी ने कहा, ‘आने वाली पीढी के लिए ये बच्चा एक प्रेरणा है। प्रियम ने जो हासिल किया है, उससे साबित होता है कि लगन होने पर परेशानियां आड़े नहीं आती। घर की जिम्मेदारियों को समझते हुए इसने कम उम्र में खेल में भी परिपक्वता का परिचय दिया है जो काबिले तारीफ है।’ भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और प्रवीण कुमार जैसे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के कोच रहे रस्तोगी ने कहा, ‘इसका खेल ऐसा है कि यह भारतीय सीनियर टीम में जरूर शामिल होगा। घरेलू टूर्नामेंटों में इसका प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा और यह मेहनत से पीछे नहीं हटता।’

उत्तर प्रदेश से तीन खिलाड़ी टीम में

उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक शर्मा ने कहा, ‘इस बार उत्तर प्रदेश के तीन खिलाड़ी अंडर 19 विश्व कप के लिए चुने गए हैं जिनमें प्रियम गर्ग, ध्रुव चंद जुरेल और कार्तिक त्यागी शामिल है।’ संघ के निदेशक युद्धवीर सिंह ने कहा, ‘उत्तर प्रदेश क्रिकेट ने भारतीय क्रिकेट को मोहम्मद कैफ और सुरेश रैना जैसे एक से एक नायाब खिलाड़ी दिए हैं। हमें उम्मीद है कि आने वाले समय में प्रियम, ध्रुव और कार्तिक भारतीय टीम में उत्तर प्रदेश का नाम रोशन करेंगे।’

130total visits,11visits today

1508422total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by