राज्यसभा में भी गूंजा हैदराबाद कांड, आजाद बोले- दी जाए सख्त सजा

0Shares

हैदराबाद (Hyderabad) में वेटरनिटी डॉक्टर के साथ हुई हैवानियत और मर्डर को लेकर जहां देशव्यापी गुस्सा है तो वहीं दूसरी तरफ इसकी गूंज सोमवार को संसद के शीतकालान सत्र (Winter Session of Parliament) के दौरान राज्यसभा में सुनाई पड़ी।

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने हैदराबाद में वेटरनिटी डॉक्टर से हुई हैवानियत को लेकर कहा कि कोई भी सरकार अपने राज्य में इस तरह की घटना नहीं चाहेगी। उन्होंने कहा कि यह समस्या सिर्फ कानून बनाकर खत्म नहीं होगा। इन चीजों को खत्म करने के लिए हम सभी को ऐसी अपराध के खिलाफ एकजुट होकर खड़े होने की जरूरत है।

संसद के शीतकालीन सत्र का तीसरा हफ्ता आज से शुरू हो गया। राज्यसभा में कई बिलों पर चर्चा होना सूचीबद्ध है, जैसे- इलैक्ट्रोनिक सिगरेट्स के उत्पादन और बिक्री पर बैन, स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप ग्रुप एक्ट 1988 में संशोधन और दादर और नगर हवेली, दमन और दीव। उधर, आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह ने हैदराबाद की घटना और महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर रूल 267 के अंतर्गत राज्यसभा के काम को सस्पेंशन का नोटिस दिया है। हालांकि, लोकसभा में द टैक्सेशन लॉ (अमेंडमेंट) बिल, 2019 पर चर्चा हो सकती है।

महिला सुरक्षा सहित अन्य मुद्दों पर रास में चर्चा कराने के लिए विभिन्न दलों के सदस्यों ने दिए नोटिस

महिला सुरक्षा सहित अन्य मुद्दों पर राज्यसभा में चर्चा कराने की मांग के लिए विभिन्न दलों के सदस्यों ने सभापति को नोटिस दिए है। भाजपा के प्रभात झा और आप के संजय सिंह ने महिला सुरक्षा के मुद्दे पर और विभिन्न दलों के सदस्यों ने अन्य मुद्दों पर राज्यसभा में चर्चा कराने की मांग की है।

राज्यसभा सचिवालय के सूत्रों के अनुसार झा ने हैदराबाद में महिला डॉक्टर की हत्या की घटना का जिक्र करते हुए सभापति से महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों के मुद्दे को शून्य काल में उठाने की अनुमति देने का अनुरोध किया है जबकि सिंह ने नियम 267 के तहत इस विषय पर चर्चा कराने के लिए कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है।

गुलाम नबी आजाद बोले- ऐसी समस्या सिर्फ कानून से ही खत्म नहीं होगा

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने हैदराबाद में वेटरनिटी डॉक्टर से हुई हैवानियत को लेकर कहा कि कोई भी सरकार अपने राज्य में इस तरह की घटना नहीं चाहेगी। उन्होंने कहा कि यह समस्या सिर्फ कानून बनाकर खत्म नहीं होगा। इन चीजों को खत्म करने के लिए हम सभी को ऐसी अपराध के खिलाफ एकजुट होकर खड़े होने की जरूरत है।

52total visits,2visits today

2045367total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by