‘बालाकोट आतंकी शिविर को पाकिस्तान फिर से एक्टिव कर रहा है’

0Shares

सरकार ने बुधवार (27 नवंबर) को कहा कि खुफिया सूचनाओं के अनुसार पाकिस्तान के बालाकोट में स्थित आतंकी शिविरों को फिर से सक्रिय करने के प्रयासों के संकेत मिलते हैं। बालाकोट स्थित आतंकी शिविरों को भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों से बमबारी कर नष्ट कर दिया गया था।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने राज्यसभा को एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी। उन्होंने देश की सीमाओं की सुरक्षा और इसकी अखंडता तथा संप्रभुता बनाए रखने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा ”खुफिया सूचनाओं” से संकेत मिलते हैं कि पाकिस्तान में मौजूद आतंकी संगठन बालाकोट स्थित अपने शिविर को फिर से सक्रिय करने और भारत के खिलाफ जिहादी उन्माद फैलाने के लिए प्रयासरत हैं।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए आतंकवादी हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी को बालाकोट स्थित आतंकी शिविर पर बमबारी कर उसे नष्टकर दिया था।

रेड्डी ने बताया कि सरकार की नीति आतंकवाद को कतई बर्दाश्त नहीं करने की है और सुरक्षा बलों की आतंकवाद के खिलाफ लगातार कार्रवाई के चलते पिछले कुछ साल के दौरान जम्मू कश्मीर में कई आतंकवादियों का सफाया किया गया है। उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर में इस साल 17 नवंबर तक आतंकवाद की करीब 594 घटनाएं हुईं जिनमें 37 नागरिक और 79 सुरक्षा कर्मी मारे गए।

गृह राज्य मंत्री ने बताया कि जम्मू कश्मीर में 2018 के दौरान आतंकवाद की 614 घटनाएं हुई थीं जिनमें 39 नागरिक एवं 91 सुरक्षा कर्मी मारे गए थे। रेड्डी ने बताया कि अक्टूबर 2019 तक सीमा के दूसरी ओर से घुसपैठ के 171 प्रयास किए गए जबकि 2018 में ऐसे प्रयासों की संख्या 328 थी।

72total visits,1visits today

1988801total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by