केंद्र ने SC से कहा, ‘अजित पवार के पत्र में हैं NCP के 54 MLAs के हस्ताक्षर’

0Shares

महाराष्ट्र में पिछले महीनभर से जारी सरकार को लेकर खींचतान का मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है। रविवार को सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट आज (सोमवार) को इस मामले में निर्णायक सुनवाई कर रहा है। मालूम हो कि शनिवार सुबह देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और एनसीपी नेता अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली थी, जिसके बाद से यह सियासी मामला और गरमा गया था। वहीं, एनसीपी के चार में से दो और विधायक वापस आ गए हैं। दोनों विधायकों को दिल्ली से मुंबई ले जाया गया।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने रविवार को केंद्र सरकार से कहा है कि वह सोमवार को राज्यपाल का पत्र अदालत को सौंपे जिसमें देवेन्द्र फडणवीस को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गया है। साथ ही अदालत ने केंद्र सरकार से कहा कि वह भाजपा नेता द्वारा राज्य में सरकार बनाने के लिए किए गए दावे का पत्र भी अदालत के समक्ष सोमवार को सुबह साढ़े दस बजे सुनवाई के दौरान पेश करे। भाजपा ने दावा किया है कि फडणवीस के पास 170 विधायकों का समर्थन है। 288 सदस्यीय सदन में बहुमत के लिए 145 विधायकों की जरूरत है।

11:04 am- मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि मैंने अजित पवार से मुलाकात की है। उनके पास एनसीपी के 54 विधायकों का समर्थन हासिल है।

11:01 am- मुकुल रोहतगी ने कहा कि गवर्नर पर हमला करना निराधार है। फ्लोर टेस्ट अभी होना है। सुप्रीम कोर्ट यह फैसला नहीं कर सकता कि फ्लोर टेस्ट कब होना चाहिए।

10:55 am- केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, ‘अजित पवार के पत्र में हैं NCP के 54 विधायकों के हस्ताक्षर’

10:48 am- सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस के इस अनुरोध पर विचार नहीं कर रही है कि उन्हें महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाए।

10:46 am- केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि महाराष्ट्र में जब कोई दल सरकार बनाने की स्थिति में नहीं था तब राष्ट्रपति ने राष्ट्रपति शासन लगाया।

10:40 am: महाराष्ट्र मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी, सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता बोले, मेरे पास हैं ऑरिजनल डॉक्यूमेंट्स।

10:35 am: शिवसेना की ओर से कपिल सिब्बल रख रहे हैं पक्ष। अभिषेक मनु सिंघवी कांग्रेस एनसीपी की ओर से दलील रख रहे हैं। वहीं, महाराष्ट्र बीजेपी की ओर से मुकुल रोहतगी मौजूद हैँ। इसके अलावा कोर्ट रूम में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता भी हैं।

10:30 am: महाराष्ट्र मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

10:00 am: शिवसेना नेता अनिल देसाई सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। सुप्रीम कोर्ट में आज महाराष्ट्र मामले की सुनवाई होनी है।

5778total visits,1visits today

2045363total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by