महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा, रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

0Shares

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के नतीजों के 19 दिन बाद आखिरकार राष्ट्रपति शासन लग गया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश को मंजूरी दे दी है. इससे पहले महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यिारी ने राज्य की मौजूदा हालत की रिपोर्ट केंद्र को भेजी थी. रिपोर्ट में उन्होंने कहा था कि संविधान के मुताबिक राज्य में सरकार नहीं बन सकती है. उन्होंने रिपोर्ट में राष्ट्रपति शासन लागू करने की सिफारिश की थी. नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने राज्यपाल के इस सिफारिश को अपनी स्वीकृति दे दी थी, इसके बाद गृह मंत्रालय ने इस फाइल को राष्ट्रपति के पास भेज दी थी. राष्ट्रपति ने राज्य में संविधान की धारा-356 के तहत राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया है.

महाराष्ट्र में लगा राष्ट्रपति शासनमहाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लग गया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की कैबिनेट की सिफारिश पर हस्ताक्षर कर दिया है. पंजाब के दौरे पर गए राष्ट्रपति जैसे ही दिल्ली लौटे उन्होंने गृह मंत्रालय द्वारा राष्ट्रपति शासन की भेजी गई सिफारिश पर अपनी मुहर लगा दी. इसके साथ ही महाराष्ट्र में 24 अक्टूबर से बरकरार राजनीतिक अनिश्चितता का फिलहाल पटाक्षेप हो गया है.

मातोश्री से निकला शिवसेना नेताओं का काफिलामुंबई में मातोश्री से शिवसेना नेताओं का काफिला अभी अभी बाहर निकला है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे, रामदास कदम और एकनाथ शिंदे समेत कई दूसरे नेता मातोश्री से निकले हैं. सूत्रों के मुताबिक ये नेता होटल रिट्रीट जा रहे हैं. मलाड स्थित होटल रिट्रीट में ही शिवसेना के 56 विधायक ठहरे हुए हैं. शिवसेना सुप्रीमो इन विधायकों के साथ आगे की रणनीति पर चर्चा कर सकते हैं.

मुंबई पहुंचे कांग्रेस नेताकांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल और केसी वेणुगोपाल सोनिया गांधी का संदेश लेकर मुंबई पहुंच चुके हैं. थोड़ी देर में ही ये नेता राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार से बात करेंगे. दोनों पार्टियों के बीच राज्य की मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम पर चर्चा होगी.

पंजाब से दिल्ली लौटे राष्ट्रपतिपंजाब के दौरे पर गए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दिल्ली लौट आए हैं. इसी के साथ राष्ट्रपति महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की कैबिनेट की सिफारिश पर विचार कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश से जुड़ी फाइल राष्ट्रपति को भेज दी है. अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस पर फैसला ले सकते हैं. नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश पहले ही कर दी है.

जयपुर में ही रहेंगे कांग्रेस विधायकमहाराष्ट्र में सरकार गठन पर अनिश्चितताओं के बीच कांग्रेस के विधायक अभी भी जयपुर के रिजॉर्ट में ही रहने वाले हैं. रिपोर्ट के मुताबिक जब तक आलाकमान से कांग्रेस विधायकों को आदेश नहीं मिलता है वे रिजॉर्ट में ही रहेंगे. कांग्रेस के लगभग 40 विधायक इस वक्त जयपुर में एक रिजॉर्ट में ठहरे हुए हैं

5497total visits,1visits today

1508968total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by