यूपी : पेट्रोल लेकर पानी टंकी पर चढ़ा परिवार, 24 घंटे से मनाने में जुटी पुलिस,जानिए पूरा मामला

0Shares

यूपी की राजधानी लखनऊ में पानी टंकी पर चढ़ा हरदोई से आया परिवार 24 घंटे के बाद भी उतरने को तैयार नहीं है। लखनऊ पुलिस और अन्य अधिकारियों के सारे प्रयास विफल हो गए हैं। वे लोग अपहरण के मामले में आरोपियों के खिलाफ हरदोई पुलिस के कार्रवाई नहीं करने से नाराज है।

हरदोई से आये परिवार के सात लोग शुक्रवार सुबह 10.30 बजे दुबग्गा जॉगर्स पार्क स्थित पानी की टंकी पर चढ़ गए। टंकी पर परिवार के चढ़ने की खबर मिलते ही काकोरी पुलिस और तहसीलदार पहुंच गये। पुलिस अधिकारी परिवार से नीचे उतरने की मिन्नत करते रहे, जिसका कोई असर नहीं हुआ। टंकी पर चढ़े लोगों पर नजर रखने के लिए ड्रैगन लाइट मंगाने के साथ ही फायर ब्रिगेड को भी मदद के लिए बुलाया गया।

हरदोई ग्राम छोली बरिया निवासी विनय प्रताप सिंह अधिवक्ता हैं। उनका पुश्तैनी जमीन को लेकर करीबी रिश्तेदारों से विवाद है। विनय के अनुसार 11 जनवरी 2016 को छोटे भाई विवेक सिंह को प्रतिद्वंद्वी लल्लन सिंह, वीरपाल, भोला सिंह, संजय सिंह, कृष्णपाल सिंह, अमर सिंह और भरत सिंह ने अगवा कर लिया था। विवेक का अपहरण करने के मामले में आरोपियों के खिलाफ थाना सुरसा में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। विनय के मुताबिक पुलिस लल्लन सिंह और उसके साथियों के दबाव में थी। इस वजह से बिना जांच किये ही फाइनल रिपोर्ट लगा दी गई। पुलिस की कार्रवाई से दबंगों को बल मिल गया। वे लोग विनय के परिवार को धमकाने लगे।

डीएम-एसएसपी से थे नाराज: विपक्षियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से विनय प्रताप सिंह डीएम पुलकित खरे और एसएसपी आलोक प्रियदर्शी से नाराज थे। विवश होकर शुक्रवार को वे पत्नी राधा सिंह, भाई अजय प्रताप सिंह, बहू माला सिंह, भतीजे शिव सिंह, बहन राजवती सिंह और बेटी पूनम को साथ लेकर टंकी पर चढ़ गये। पेट्रोल की पिपिया लेकर चढ़े परिवार ने चादर में आग लगाने का प्रयास भी किया।

46total visits,1visits today

952467total sites visits.
Hello
Can We Help You?
Powered by